प्रस्‍तावना

भारत सरकार द्वारा आधारभूत संरचना विकसित करने के आरंभ से ही निर्माण क्षेत्र में बड़ी मात्रा में धन निवेश किया जा रहा है। सभी आर्थिक क्षेत्रों में आवासों की भारी कमी और देश में आवास क्षेत्र की वृद्धि एवं विकास के महत्‍व को देखते हुए यह आशा की जा रही है कि निकट भविष्‍य में देश में आवास उद्योग में नयी क्रांति आएगी। स्‍वच्‍छ एवं अक्षय ऊर्जा तथा सस्‍ते आवास देश में तेजी से फैलने वाली अवधारणा है।

देश के विकास में अपेक्षित प्राथमिक आधारभूत संरचनाओं में से एक आवास के महत्‍व को समझते हुए सीएसआईआर की महत्‍वपूर्ण प्रयोगशाला, सीएसआईआर-सीबीआरआई ने ‘भवन इंजीनियरी एवं आपदा न्‍यूनीकरण (बीईडीएम) में समन्वित एम.टैक पाठ्यक्रम तथा इंजीनियरी एवं विज्ञान में पीएच.डी पाठ्यक्रम आरम्‍भ किया है। समन्वित पाठ्यक्रम को इस प्रकार डिजाइन किया गया है कि इसे सफलतापूर्वक पूरा करने वाले अभ्‍यर्थी को एम.टैक और पीएच.डी दोनों डिग्री प्रदान की जाएंगी तथा दो वर्ष की अवधि के पश्‍चात बीच में ही छोड़कर जाने वाले अभ्‍यर्थी को एम.टैक की उपाधि प्रदान की जाएगी।

आपदा न्‍यूनीकरण के पाठ्यक्रम में भूकम्‍प, भूस्‍खलन एवं अग्नि जोखिम के न्‍यूनीकरण को पर्याप्‍त रूप में शामिल किया गया है जिनसे आधारभूत संरचना को भारी क्षति होती है और तबाही होती है। देश ऐसी अनेक आपदाएं झेल चुका है। इन आपदाओं से निपटने के लिए बहुविध विशेषज्ञता की आवश्‍यकता होती है, जो कि हमारे संस्‍थान में उपलब्‍ध है तथा पाठ्यक्रम में छात्रों को इन आपदाओं के न्‍यूनीकरण का व्‍यावहारिक प्रशिक्षण दिया जाता है। इस प्रकार यह पाठ्यक्रम सिद्धांत एवं व्‍यवहार का एक मिश्रण है। प्रयोगशाला में कार्यरत वैज्ञानिकों के अनुभवों को शामिल करते हुए पाठ्यक्रम को इस प्रकार तैयार किया गया है जिससे छात्रों को सैद्धांतिक ज्ञान के साथ-साथ साइट पर व्‍यावहारिक अनुभव भी हो सके। ऐसी अद्वितीय सुविधा देश में अन्‍यत्र उपलब्‍ध नहीं है। यह कार्यक्रम स्‍वयं में अद्वितीय है।


कार्यक्रम में सीटों की संख्‍या

समन्वित कार्यक्रम में कुल 10 सीटें उपलब्‍ध हैं।


प्रवेश प्रक्रिया तथा प्रवेश के लिए अर्हता

ऐसे इंजीनियरी ग्रेजुएट जो सिविल इंजीनियरी/निर्माण इंजीनियरी/भवन विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी में बी.टैक कर चुके हों अथवा अक्‍तूबर माह तक पूरा करने वाले हों, इस कार्यक्रम के योग्‍य हैं।  कृपया अधिक जानकारी के लिए सीएसआईआर की वेबसाइट http:/www.csir.res.in देखें।. 


फैलोशिप

कृपया वेबसाइट   www.acsir.res.in  देखें ।


कार्यक्रम का शुल्‍क

कृपया वेबसाइट   www.acsir.res.in  देखें ।

प्रत्‍येक सत्र आरंभ होने से पहले शुल्‍क/प्रभार जमा करना पड़ता है। नैफ्ट/बैंक हस्‍तांतरण के लिए धनराशि निदेशक, सीबीआरआई रूड़की के बचत खाता सं.30269847968 (आई एफ एस कोड SBIN0010635) में, पूर्ण विवरण सहित हस्‍तांतरित करें। डिमाण्‍ड ड्राफ्ट के मामले में, निदेशक, सीबीआरआई के नाम जारी और रूड़की में देय डिमाण्‍ड ड्राफ्ट के पीछे अपना नाम लिखकर स्‍पीड पोस्‍ट अथवा पंजीकृत पत्र द्वारा निदेशक, सीएसआईआर – सीबीआरआई, रूड़की, उत्‍तराखण्‍ड, पिन-247667 के पते पर भेजें।


महत्‍वपूर्ण तिथियॉं

अधिक जानकारी के लिए वेबसाइट www.acsir.res.in  देखें। प्रत्‍येक सत्र आरम्‍भ होने से पहले विस्‍तृत कार्यक्रम उपलब्‍घ कराया जाएगा।