कार्बनिक भवन निर्माण सामग्री की स्‍थापना 1989 में कृषि औद्योगिक अपशिष्‍टों के उपयोग से सुरक्षात्‍मक तथा सौंदर्यपरक लेपनों, सीलेंट्स, छत सामग्रियों इत्‍यादि के वैकल्पिक संधारणीय निर्माण सामग्रियों तथा सम्मिश्रों के क्षेत्र में अनुसंधान एवं विकास के माध्‍यम से नवीनतम विकासों को खोजने, दोहन तथा बढ़ावा देने के उद्देश्‍य से किया गया था। यह भवन तथा निर्माण उद्योग के साथ विभिन्‍न कार्बनिक निर्माण उत्‍पादों के विभिन्‍न प्रकारों के लिए विचार-विमर्श को बढ़ावा देने का प्रयास भी है। समूह के पास अपने से संबंधित कार्य में अनुसंधान एवं विकास प्रोग्राम करने के साथ-साथ प्रायोजन के आधार पर कार्य हाथ में लेने के लिए स्‍टेट-ऑफ-आर्ट इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर सहित पर्याप्‍त सुविज्ञता है।  समूह; संरचनाओं की मरम्‍मत, रेट्रोफिटिंग तथा सुरक्षा के लिए आवश्‍यक सामग्रियों एवं तकनीकों के विकास के लिए भी कार्य कर रहा है।

अनुसंधान एवं विकास

  • लकड़ी के विकल्‍प तथा अन्‍य निर्माण उत्‍पादों तथा प्रक्रम का विकास
  • मूल्‍य वर्धित उत्‍पादों तथा प्रक्रमों का विकास।
  • मूल्‍य वर्धित उत्‍पादों के विकास के माध्‍यम से निर्माण अनुप्रयोगों हेतु प्‍लास्टिक अपशिष्‍ट की रीसाइक्लिंग।
  • कृषि-औद्योगिक अपशिष्‍टों का अनुप्रयोग।
  • सुरक्षात्‍मक तथा सौंदर्यपरक लेपन एवं फिनिशिंज।
  • निर्माण अनुप्रयोगों के लिए सीलेंट्स, अधेसिव तथा जल रोधी पद्धतियां।
  • वर्तमान संरचनाओं के सेवाजीवन में वृद्धि के लिए स्‍वास्‍थ्‍य मूल्‍यांकन तथा रोकथाम के उपाय।
  • सामग्री के विशिष्‍ट तथा अनुप्रयोगों हेतु उपयुक्‍तता मूल्‍यांकन।
  • गुणवत्‍ता नियंत्रण एवं सुधार के लिए वैकल्पिक तथा परम्‍परागत निर्माण सामग्रियों का निष्‍पादन मूल्‍यांकन

उपलब्धियॉं

(उत्‍पाद एवं घटक)

  • ईपीएस डोर शटर्स – लकड़ी का 100 प्रतिशत विकल्‍प (प्रतिस्‍थापन)
  • कॉयर-सीएसएनएल बोर्ड- लकड़ी का विकल्‍प (पेंटेंट सं.186986-टिफैक, डीएसटी, नई दिल्‍ली द्वारा सहायता की गई।
  • ठोस पीवीसी फोम्‍ड एंड अन-फोम्‍ड बोर्ड्स (अपशिष्‍ट का उपयोग) – बीएमटीपीसी द्वारा मदद की गई है।
  • कागज उद्योग के अपशिष्‍ट के उपयोग से निम्‍न घनत्‍व वाला बोर्ड (पेटेंट सं.190173)
  • अरहर डंठल – सीमेंट बोर्ड एवं पैनल (कृषि जन्‍य अपशिष्‍ट का इस्‍तेमाल) – कृषि मंत्रालय, नई दिल्‍ली द्वारा मदद की गई।
  • खोई – सीमेंट बोर्ड एवं पैनल
  • पॉलीटाइल्‍स एवं पॉलीमर संशोधित सीमेंटीय (पॉलीसेम) फर्शी टाइलें।
  • कागज उद्योग अपशिष्‍ट के उपयोग से हल्‍के भार वाले सेंडविच पैनल।
  • कंक्रीट संरचनाओं के लिए एक्रीलिक आधारित लेप (वाणिज्‍यीकृत)

आधारिक संरचना
सभी विकासात्‍मक एवं सहायक गतिविधियॉं चलाने के लिए स्‍टेट-ऑफ-आर्ट आधारिक संरचना उपलब्‍घ है।
उनमें से कुछ नीचे दी गई हैं :

उपकरण

  • संक्षारण कैबिनेट
  • पर्यावरणीय चैम्‍बर
  • कम्‍प्‍यूटर नियंत्रित 2 एवं 100 टन क्षमता की यूनिवर्सल टैस्टिंग मशीनें
  • बंद सैल प्रतिशत के निर्धारण के लिए उपकरण
  • आर्द्रता चैम्‍बर
  • अविनाशी परीक्षण विधि (एनडीटी) से तापीय सुचालकता, विसारणता तथा निस्‍सारणता

प्रक्रम उपस्‍कर

  • सिंगल स्‍कू एवं लैबोरेट्री एक्‍सट्रूडर्स
  • हाइड्रोलिक प्रेसिज – गर्म एवं ठंडी (15-1200 टन)
  • रोटरी हाई प्रेसर डाइजेस्‍टर
  • बॉल मिल
  • दो रौल हॉट मिक्‍सचर
  • रेजिन – फाइबर मिक्‍सचर
  • इंजेक्‍शन मॉलडिंग मशीन इत्‍यादि
  • मैकेनिकल बीटर एंड डि-पाइथर

क्षमताएं

डीएसटी, एनआरडीसी, बीएमटीपीसी, पर्यावरण एवं वन मंत्रालय, कृषि मंत्रालय, एनसीएल इंण्‍डस्‍ट्रीज, द सुप्रीम इण्‍डस्‍ट्रीज लि0, बाकेलाइट – हाइलम लि0, डॉ0 बैक एण्‍ड कम्‍पनी, कृभको, जुअरी एग्रो,  एनएफएल, सिन्‍टर प्‍लास्‍ट, आईजेआईआरए, युनिप्‍लास, बी टी कम्‍पोजिट्स, एवरेस्‍ट-एटरमिट, देगुस्‍सा इंडिया प्रा.लि., वाकर मेटरॉक कैमिकल लि. इत्‍यादि ने समूह की बहुत सी परियोजनाओं को प्रायोजित किया है।

प्रभाग निम्‍नलिखित के विकास से संबंधित अनुसंधान एवं विकास, प्रायोजित तथा परामर्शी परियोजनाएं ले सकता है :

  • वैकल्पिक संधारणीय निर्माण सामग्रियॉं
  • प्राकृतिक एवं मानवनिर्मित फाइबर्स से कम्‍पोजिट्स बनाना
  • मूल्‍य संवर्धित निर्माण रेशे के लिए कृषि-औद्योगिक अपशिष्‍ट अनुप्रयोग
  • सुरक्षात्‍मक एवं सौन्‍दर्यपरक लेप
  • सीलेंट्स एंड वाटर प्रूफिंग मैटिरियल्‍स
  • फर्श एवं छत निर्माण के लिए वैकल्पिक सामग्री

सहायक सेवाएं:

  • वैकल्पिक नई परम्‍परागत सामग्रियों के भौतिक-यांत्रिक व्‍यवहार का आईएसओ, एएसटीएम, बीएस एंड बीआईएस मानकों के अनुसार निष्‍पादन मूल्‍यांकन
  • संविदा अनुसंधान एवं विकास परियोजनाएं
  • फर्टिलाइजर्स, कैमिकल्‍स तथा समुद्री पर्यावरण अथवा ऊष्‍मा से क्षतिग्रस्‍त आरसीसी एवं स्‍टील संरचनाओं की मरम्‍मत, पुनर्वास तथा सुरक्षा के लिए उपचारात्‍मक उपाय। विशिष्‍ट तथा अनुप्रयोगों के लिए निर्माण सामग्री का गुणवत्‍ता नियंत्रण तथा उपयुक्‍तता निर्धारण।
  • नई सामग्रियों के लिए नए मानकों का निर्माण
  • तकनीकी कार्मिकों को प्रशिक्षण

कृपया विस्‍तृत जानकारी के लिए सम्‍पर्क करें:

डॉ. रजनी लखानी
समूह प्रमुख,
कार्बनिक भवन निर्माण सामग्री समूह,
दूरभाष : 91-1332-283483
ई मेल   :  rlakhani_cbri@rediffmail.com
वेबसाइट :  www.cbri.res.in